Tuesday, January 30, 2007

क्या दिन थे यारो

नज़ीर अकबराबादी - बचपन
क्या दिन थे यारो
वह भी थे जबकि भोले भाले ।
निकले थी दाईं लेकर फिरते कभी ददा ले ।।
चोटी कोई रखा ले बद्धी कोई पिन्हा ले ।
हँसली गले में डाले मिन्नत कोई बढ़ा ले ।।
मोटें हों या कि दुबले, गोरे हों या कि काले ।
क्या ऐश लूटते हैं मासूम भोले भाले ।।1।।
दिल में किसी के हरगिज़ ने शर्म ने हया है ।
आगा भी खुल रहा है, पीछा भी खुल रहा है ।।
पहनें फिरे तो क्या है, नंगे फिरे तो क्या है ।
यां यूं भी वाह वा है और वूं भी वाह वा है ।।
कुछ खाले इस तरह से कुछ उस तरह से खाले ।

क्या ऐश लूटते हैं, मासूम भोले भाले ।।2।।
मर जावे कोई तो भी कुछ उनका ग़म न करना ।
ने जाने कुछ बिगड़ना, ने जाने कुछ संवरना ।।
उनकी बला से घर में हो क़ैद या कि घिरना ।
जिस बात पर यह मचले फिर वो ही कर गुज़रना।।
माँ ओढ़नी को, बाबा पगड़ी को बेच डाले ।
क्या ऐश लूटते हैं, मासूम भोले भाले ।।3।।
कोई चीज़ देवे नित हाथ ओटते हैं ।
गुड़, बेर, मूली, गाजर, ले मुंह में घोटते हैं ।।
बाबा की मूंछ माँ की चोटी खसोटते हैं ।
गर्दों में अट रहे हैं, ख़ाकों में लोटते हैं ।।
कुछ मिल गया सो पी लें, कुछ बन गया सो खालें ।
क्या ऐश लूटते हैं मासूम भोले भाले ।।4।।

जो उनको दो सो खालें, फीका हो या सलोना ।
हैं बादशाह से बेहतर जब मिल गया खिलौना ।।


जिस जा पे नींद आई फिर वां ही उनको सोना ।

परवा न कुछ पलंग की ने चाहिए बिछौना ।।
भोंपू कोई बजा ले, फिरकी कोई फिरा ले ।
क्या ऐश लूटते हैं, मासूम भोले भाले ।।5।।
ये बालेपन का यारो, आलम अजब बना है ।
यह उम्र वो है इसमें जो है सो बादशाह है।।
और सच अगर ये पूछो तो बादशाह भी क्या है।
अब तो ‘‘नज़ीर’’ मेरी सबको यही दुआ है ।
जीते रहें सभी के आसो-मुराद वाले ।
क्या ऐश लूटते हैं, मासूम भोले भाले ।।6।

2 comments:

Anonymous said...

hi

Anonymous said...

प्रियंका के साथ एक रात की चुदाई
पड़ोस की लड़की की कुँवारी चूत ली
कुंवारी चूत चुदाई का आनन्दमयी खेल-1 (Bhanji Ki Kunvari Choot Chudai ka Khel-1)
कुंवारी चूत चुदाई का आनन्दमयी खेल-2 (Bhanji Ki Kunvari Choot Chudai ka Khel-2)
गाण्ड मेरी पटाखा बहन बानू की (Gaand Meri Patakha Bahan Banu ki)
मेरे बेहेन गुड्डी के चूत में डाला (Mere Behen Guddi Ke Chut mein dala)
हॉस्टल में रापचिक माल चोदा (Hotel Mein Rapchik Maal Choda)
कॉलेज की चुदाई वाली मस्ती (College Ki Chudai Bali Masti)
अपनी चूत की जलन का उपचार करवाया (Chut Ki Jalan Ka Upchar Karwaya)
अपनी चूत की जलन का उपचार करवाया (Chut Ki Jalan Ka Upchar Karwaya)
गर्दन के बाद चूत अकड़ गई (Gardan Ke Bad Chut akad gayi)
रसीली चूत में मेरा लवड़ा (Rasili Choot me Mera Lavda)
Antarvasna सिनेमा की बैक सीट में (Cinema ki Back Seat Mein)
Antarvasna कॉपी से कुंवारी चूत तक (Copy Se Kuanari Chut Tak)
आजनबी से चुद गयी (Ajnabi Se Chud Gai)
बड़ी गांड बलि आंटी को चोदा (BADI GAND WALI AUNTY KO CHODA)
मेरी बगल की मेहेक से भाई हुआ पागल ( Meri Bagal Kii Mehek Se Bhai Hua Pagal)
19 साल बेहेन की मस्त चुदाई (19 Saal Behan Ki Mast Chudai)
चाचा की लड़की सोनिया की मस्त चूत चुसी (Chacha Ki Ladki Sonia ki Mast chut Choosi)